ब्रेकिंग न्यूज
logo
add image
Blog single photo

जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए भी जरूरी था धारा 370 का हटना-सुरेन्द्र सांखला

उज्जैन। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्य समिति सदस्य सुरेन्द्र सांखला ने धारा 370 की समाप्ति के प्रयास और दृढ़ इच्छाशक्ति की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि भारतीय जन संघ से लेकर भाजपा तक धारा 370 जो कि एक राष्ट्रीय मुद्दा है को समाप्त करने के लिए भाजपा विचारधारा की प्रस्तावना रही। आज संसद में जो काम भाजपा और सहयोगी दलों ने किया वह देश की अखंडता के लिए तो है ही जम्मू और कश्मीर के विकास के लिए भी जरूरी थी।
अखंड भारत की कल्पना, राष्ट्रीय समस्या और समाधान। यह मुद्दे जनसंघ से लेकर आज तक चले आ रहे थे। राष्ट्रवादी विचारधारा ने कभी भी सत्ता को प्राप्त करने के लिए कोई समझौता नहीं किया। हमारी यह सोच रही है सशक्त भारत, समृद्ध भारत, निडर भारत। आंतरिक और बाहरी समस्याओं का निदान अखंड भारत की परिकल्पना। जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है, और उसके लिए हमारे देश के कई शहीदों ने राष्ट्रभक्तों ने अपनी जान की बाजी तक लगाई है। जवाहरलाल नेहरू के कश्मीर के गलत निर्णय को देश ने भोगा। नेहरू जी के मंत्रिमंडल से आवाज उठी वह आवाज राष्ट्रीयता की थी और वह आवाज डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की थी। जिन्होंने मंत्रिपरिषद से इस्तीफा देकर आवाज दी कश्मीर हमारा है। यही कारण है कि हम आज भी कहते हैं जहां हुए बलिदान मुखर्जी, वह कश्मीर हमारा है। धारा 370, गोहत्या बंदी, राम मंदिर, भय मुक्त और भ्रष्टाचार मुक्त भारत तथा अलगाववाद मुक्त भारत। आज भारतीय संसद में धारा 370 हटाने के मुद्दे पर जो निकल कर आया वह स्वागत योग्य है, अभिनंदन के योग्य है। जम्मू और कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है। लेकिन कुछ स्वार्थी तत्वों के कारण जम्मू कश्मीर का विकास नहीं हो पाया। लोगों ने जम्मू कश्मीर को भारत से अलग करने के लिए तुष्टीकरण की नीति अपनाई। अब धारा 370 समाप्त होने जा रही है निश्चित ही जम्मू और कश्मीर भारत का अभिन्न अंग अब विकास से जुड़ेगा। साथ ही विकास के मुद्दे पर सारे मुद्दे भी समाप्त हो जाएंगे। भारत सरकार के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी और भाजपा नेतृत्व के प्रति आभार जिन्होंने भारत की करोड़ों लोगों की आवाज को सुना, करोड़ों लोगों की भावना को समझ कर यह निर्णय लिया। धन्यवाद मोदी जी धन्यवाद।

ताजा टिप्पणी

टिप्पणी करे

Top