ब्रेकिंग न्यूज
logo
add image
Blog single photo

कांग्रेस की सरकार बनी तो करेंगे गरीबी पर निर्णायक प्रहार-श्री दुबे

25 करोड़ लोगों को दी जाएगी सालाना न्यूनतम आय
उज्जैन। मध्यप्रदेश कोंग्रेस कमेटी की ओर से पूरे प्रदेश के 29 जिलों में राष्ट्रीय प्रवक्ता द्वारा प्रेसवार्ता आयोजित की गई प्रदेश की धार्मिक नगरी उज्जैन में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के मीडिया समन्वयक एवम प्रवक्ता अभय दुबे ने पत्रकारों से चर्चा कर कांग्रेस की नीतियों की जानकारी दी। श्री दुबे ने बताया कि यदि देश में कांग्रेस की सरकार बनती है तो गरीबी मिटाओ के वचन के साथ गरीबी पर निर्णायक प्रहार करते हुए देश के 25 करोड़ लोगों को 72000 रुपये सालाना न्यूनतम आय दी जाएगी।  प्रेसवार्ता के दौरान उन्होंने पिछली शिवराज सरकार और भाजपा की नीतियों पर जमकर प्रहार किया। उन्होंने यह भी कहा कि सिंहस्थ घोटाले का कोई भी आरोपी बक्शा नहीं जाएगा।
उज्जैन में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की ओर से आयोजित प्रेसवार्ता को संबोधित करने आए कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता अजय दुबे ने कहा कि देश मे कांग्रेस की सरकार बनते ही देश के लगभग 25 करोड़ गरीब लोगों को 6000 रुपए प्रतिमाह दिए जायंगे। उन्होंने  सूटबूट की सरकार हटाओ, गरीबी मिटाओ, का नारा देते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार ने प्रदेश की जनता से जो वादे किए उन्हें पूरा कर रही है। साथ ही उन्होंन शिवराज सरकार पर भ्रष्टाचार कर प्रदेश को लाखों के कर्ज में डुबोने का आरोप भी लगाया। आने वाले लोकसभा चुनाव के नतीजों के बारे में प्रश्न करने पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रचण्ड बहुमत के साथ मध्यप्रदेश में अधिक से अधिक सीटे जीतेगी। श्री दुबे ने भाजपा पर सत्ता लोभी होने का आरोप तो लगाया लेकिन कांग्रेस में गुटबाजी को लेकर कोई स्पष्ट जवाब नही दे पाए। सिंहस्थ ओर किसानो के नाम पर दिए गए फर्जी लोन के बारे में उन्होंने कहा की भ्रष्टाारियों के खिलाफ कार्यवाही होगी और किसी भी आरोपी को बक्शा नही जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी ने देश की जनता के साथ बीते 5 वर्षों में सिर्फ छलावा ही किया गया है। नोटबंदी से न सिर्फ देश की अर्थव्यवस्था को चौपट किया गया है अपितु असंगठित क्षेत्र से करोड़ों रोजगार छीन लिए है। गब्बरसिंह टेक्स लगाकर देश के व्यापार को आहत किया, संवैधानिक संस्थाओं से उनके अधिकार छीने, किसानों को लागत का 50 प्रतिशत उपर देने का घोषणा पत्र में वादा करने के बाद मुकर गए। मुझे इस बात पर आश्चर्य हो रहा है कि मोदीजी न सिर्फ प्रदेशों की कर्ज माफी का उपहास उड़ा रहे हैं अपितु कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जी द्वारा घोषित की गई न्याय योजना का भी विरोध कर रहे हैं। तर्क दे रहें है कि यह आर्थिक रूप से संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि राफेल में हजारों करोड़ का घोटाला करने वाले, 6 हजार करोड़ रूपये अपने प्रचार और प्रसिद्धि पर खर्च करने वाले देश के तथाकथित कर्णधारों को क्या यह हक है कि वे देश के अंतिम पंक्ति में खड़े हुए लोगों को इस महत्वाकांक्षी योजना पर सवाल खड़े करें।
उल्लेखनीय है कि पूरे प्रदेश के 29 जिलों में मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता द्वारा एक साथ प्रेसवार्ता आयोजित की गई थी। हालांकि मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता के बयानों से यह स्पष्ट नजर आ रहा था कि वे आने वाले लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी द्वारा दिये गए गरीब व्यक्ति को 6000 रुपए न्यूनतम आये वाले बयान को प्रमोट करने आये थे।

ताजा टिप्पणी

टिप्पणी करे

Top