ब्रेकिंग न्यूज
logo
add image
Blog single photo

ब्लेकमेलिंग बनी मौत की वजह

तीन लोग गिरफ्तार
इंदौर। मध्यप्रेदश के इंदौर शहर में भय्यू महाराज आत्महत्या मामले में 7 महीने के बाद पुलिस ने जांच पूरी कर ली है। इस मामले में भय्यू की पत्नी के खुलासे के बाद तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इन तीनों में दो सेवादार विनायक दुधाले, शरद देशमुख हैं। वहीं गिरफ्तार लोगों में शामिल एक महिला भी है, जिसका नाम पलक है। पलक भय्यू की काफी करीबी मानी जाती रही है। इन तीनों के खिलाफ षडयंत्र रचकर धमकाने का केस दर्ज किया गया है। भय्यू की पत्नी आयूषी ने बयान में कहा कि ये तीनों भय्यू महाराज को जाल में फंसाकर उनका शोषण कर रहे थे। षडयंत्र में उलझकर ही वे आत्महत्या करने को मजबूर हो गए। पलक को शुक्रवार को सीएसपी आजाद नगर पल्लवी शुक्ला ने थाने बुलाकर गिरफ्तार किया। इसके बाद तीनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया। यहीं से इन्हें जेल भेजा गया।
बताया जा रहा है कि जिस दिन भय्यू की शादी आयूषी के साथ हुई, उसी दिन पलक ने खूब हंगामा किया था। उसने खुद के साथ भय्यू की शादी की तारीख तक तय कर दी थी। पलक के बारे में बताते हुए एएसपी प्रशांत चौबे ने कहा कि पलक को भय्यू से मनमीत अरोरा ने मिलवाया था। इसके बाद विनायक और शरद ने पलक को भय्यू के करीब भेजा और उन्हें ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया।
जब भय्यू की शादी को गई तो पलक ने उन्हें एक साल का समय देकर खुद से 16 जून को शादी करने की तारीख तय की। पलक ने इस बारे में विनायक और शरद को भी मैसेज भेजे थे। इन मैसेज में उसने लिखा है कि उनका (पलक, विनायक और शरद) प्लान सफल होगा कि नहीं। इसके बाद पलक ने भय्यू को कई अश्लील मैसेज भी भेजे। इससे पहले भय्यू महाराज के वकील निवेश बड़जात्या को भी 5 करोड़ रुपये की धमकी दिसंबर में मिल चुकी है। इस मामले में पुलिस ने भय्यू के ही ड्राइवर रह चुके कैलाश पाटिल और उसके दो साथियों को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने कई पहलुओं की जांच के आधार पर निष्कर्ष निकाला कि सेवादारों और एक संदेही युवती द्वारा ब्लैकमेल किए जाने के बाद भय्यू ने आत्महत्या जैसा कदम उठाया। पुलिस को भय्यू के फोन से भी युवती द्वारा किए गए अश्लील मैसेज मिले हैं, जिससे साफ पता चल रहा है कि वह सेवादारों के साथ मिलकर भय्यू को ब्लैकमेल कर रही है। इस मामले की जांच पूरी करने के बाद आईपीएस अधिकारी रहे अगम जैन सीएसपी ने रिपोर्ट आला अधिकारियों को सौंप दी है। इसके साथ ही भय्यू की पत्नी आयूषी और दोनों बहनें रेणु अक्का और मनु अक्का ने भी पुलिस को संदेही युवती और दोनों सेवादारों के खिलाफ कई चौंकाने वाले खुलासे किए थे। पुलिस को इस संबंध में कुछ अहम सबूत भी उपलब्ध करवाए गए थे।

ताजा टिप्पणी

टिप्पणी करे

Top