ब्रेकिंग न्यूज
logo
add image
Blog single photo

जो कांग्रेस का नेता नहीं बन सका वह देश का नेता कैसे बनेगा-नरेन्द्रसिंह तोमर

उज्जैन आलोट संसदीय क्षेत्र के सांसद का रिपोर्ट कार्ड पेश
उज्जैन। उज्जैन आलोट संसदीय क्षेत्र के सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीय ने अपने 4 वर्ष के कार्यकाल का लेखा जोखा आज गुरूवार को पेश किया। उज्जैन के कृषि उपज मंडी प्रांगण में आयोजित इस कार्यक्रम में केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्रसिंह तोमर, थावरचंद गेहलोत एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय सहित बड़ी संख्या में पार्टी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता मौजूद थे। आयोजन स्थल पर करीब 8-10 हजार की संख्या में जनता मौजूद थी।
कार्यक्रम में डॉ. चिंतामणि मालवीय ने अपना उद्बोधन देते हुए कहा कि मेरे द्वारा अपने सांसद कार्यकाल में अनेक उपलब्धियां दी है। उज्जैन शहर में सीएनजी गैस मदर स्टेशन की स्थापना करवाई गई। पहले इसके लिए देवास जाना पड़ता था। लेकिन अब जनता को यह सुविधा उज्जैन में भी मिल रही है। यही नहीं केवल 250 रूपए प्रतिमाह में घर तक गैस पहुंचाई जा रही है। यहां यह उल्लेखनीय है कि यह सुविधा मध्यप्रदेश के केवल तीन शहरों में ही उपलब्ध है। मेरे द्वारा उज्जैन के औद्योगिक विकास हेतु निरंतर प्रयास किए जाते रहे हैं। मेरे आग्रह पर केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर नेे मप्र में केवल दो स्थानों उज्जैन एवं  ग्वालियर में सेल कारखाना स्वीकृत किया। उज्जैन में यह जल्द ही शुरू होने जा रहा है। केन्द्रीय मंत्री थावरंचद गेहलोत ने एलिम्को कारखाना उज्जैन में लगाकर उज्जैन को औद्योगिक क्षेत्र में संपन्न करने का काम किया है। रेलवे में विकास के अंतर्गत उज्जैन-फतेहाबाद गैज परिवर्तन और अन्य विकास कार्य मेरे द्वारा किए गए हैं। साथ ही कई ट्रेनों का स्टॉपेज संसदीय क्षेत्र में करवाया है जिससे पूरा देश उज्जैन से जुड़ सकेगा। मेरा यह प्रयास रहेगा कि जल्द ही मैं उज्जैन में एक बड़ी फूड प्रोसेसिंग यूनिट लगवाउं। वर्तमान में केन्द्र सरकार के करीब साढ़े बारह हजार करोड़ रूपए के काम संसदीय क्षेत्र में गतिमान है। यह अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि है। मेरे द्वारा उज्जैन की आवाज को राष्ट्रीय फलक पर पहुंचाने का काम किया है। मैंने संसद में एक अच्छी उपस्थिति दी है। साथ ही संगठन के द्वारा दी गई जिम्मेदारियों को निभाने का पूरी ईमानदारी से प्रयास किया है। मुझे उज्जैन की जनता ने चुना है मैं जनता का आभार व्यक्त करता हूँ । सांसद बनने के पहले मैं एक आम व्यक्ति था लेकिन संगठन ने मुझे इस योग्य चुना और मैं आज इस पद पर आसिन हूँ। मैं पार्टी संगठन का भी आभार व्यक्त करता हूँ । मेरी हमेशा से यह कोशिश रही है कि मैं एक अच्छे जनप्रतिनिधि के रूप में आपकी सेवा करूं।
अपने उद्बोधन में केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्रसिंह तोमर ने राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा कि वे पहले पार्टी के कार्यकर्ता थे फिर महामंत्री बनाए गए, फिर उपाध्यक्ष और अब अध्यक्ष बनाए गए हैं। लेकिन वे कांग्रेस के नेता नहीं बन सके और जो कांग्रेस का नेता नहीं बन सका वह देश का नेता कैसे बनेगा। श्री तोमर ने अपने उद्बोधन में कहा कि कई दल आज नरेन्द्र मोदी के खिलाफ एकजुट हो रहे हैं। लेकिन फिर भी भारतीय जनता  पार्टी की विकासशील सरकार के आगे ये सभी दल टिक नहीं पाएंगे। उन्होंने यह भी कहा कि मप्र में भाजपा की सरकार आई है जब से प्रदेश में बिजली, पानी और सडक़ की सुविधा मुहैया हुई है। इसके पूर्व कांग्रेेस सरकार में बिजली, पानी और सडक़ के ठिकाने नहीं थे।
केन्द्रीय मंत्री थावरचंद गेहलोत ने अपने उद्बोधन में कहा कि केन्द्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार के चार वर्ष पूर्ण हुए है। नरेन्द्र मोदी साहब के नेतृत्व में सरकार ने चहुमुखी विकास किए हैं। साथ ही भारत का मान देश और दुनिया में बढ़ाने का काम किया है। गेहलोत ने कहा कि लेखा-जोखा पेश करने का प्रयास वही करता है जो काम करता है। इसके पूर्व अटल सरकार में कार्यों का लेखा-जोखा प्रस्तुत किया जाता था। अब नरेन्द्र मोदी सरकार में लगतार चौथे वर्ष भी सरकार ने केन्द्रीय मंत्रियों के माध्यम से कई राज्यों में  सरकार की उपलब्धियों का लेखा-जोखा जनता के बीच में रखा है। भारत की विकास, कृषि दर लगातार बढ़ रही है। वर्ष 2013 में भारत में प्रति व्यक्ति आय 75 हजार  रूपए थी। लेकिन केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार में यह आकड़ा 1 लाख 11 हजार से अधिक पर पहुंच गया है। भारत के राजस्व में वृद्धि हुई है साथ ही विदेशी मुद्रा भंडार भी लगातार बढ़ रहा है। विपक्षी दलों द्वारा देश में जातिवाद, भाषावाद, अराजकता का माहौल पैदा किया जा रहा है। जब-जब चुनाव आते हैं नये-नये हथकंडे अपनाए जाते हैं।
वरिष्ठ भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय ने अपने भाषण में कहा कि चुनाव में कई जगह जाना होता है। एक प्रदेश में मुझे प्रचार के दौरान एक ग्रामीण क्षेत्र में भाजपा के सरपंच से चर्चा करने का अवसर मिला। बात ही बात में उन्होंने बताया कि हमारे यहां के सांसद कांग्रेसी है लेकिन है बहुत अच्छे। वे 10-20 प्रतिशत लेकर भाजपा की पंचायत में भी राशि दे देते हैं। लेकिन भारतीय जनता पार्टी के सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीय कार्यकर्ताओं की अपेक्षा के अनुसार पारदर्शी तरीके से सांसद निधि का वितरण करते हैं। यह भाजपा एवं कांग्रेस के जनप्रतिनिधियों में अंतर है। उन्होंने मंच पर उपस्थित सभी का अभिवादन किया और जनता से भी करवाया उन्होंने अपने उद्बोधन में वर्तमान विधायक और जो विधायक बनना चाहते हैं उनके लिए भी ताली बजाकर उनका स्वागत करने का अनुरोध भी किया।

ताजा टिप्पणी

टिप्पणी करे

Top